आगरा -इंटरनेशनल नगर कीर्तन की आगरा से रवानगी

0
28

रिपोर्ट -नसीम अहमद/आगरा- श्री गुरु नानक देव सेवा सोसायटी इंटरनेशनल के तत्वाधान में काठमांडू से कल गुरुद्वारा गुरु के ताल पहुंचे नगर कीर्तन की आज सुबह आगरा की गुरु नानक नाम लेवा संगत ने मौजूदा मुखी संत बाबा प्रीतम सिंह की अगुवाई बोले सो निहाल के उदघोषों के बीच विदाई दी। इससे पूर्व दरबार हाल में संत बाबा प्रीतम सिंह जी ने नेपाल से नगर कीर्तन के साथ आए पंच प्यारे,निशानची साहिब,एवम् पदाधिकारियों को गुरु घर का सरोपा देकर और आगे की सुखद यात्रा के लिए श्री गुरु ग्रंथ साहिब जी के आगे अरदास की।
यात्रा की रवानगी से पूर्व निरवेर खालसा गतका दल एवम् गुरु के ताल के संत सिपाही रंजीत अखाड़ा ने पुरातन युद्ध कला का प्रदर्शन किया। यात्रा में श्री गुरु ग्रंथ साहिब की सवारी, पंच प्यारे के अलावा गुरुद्वारा गुरु नानक मठ के महंत निर्मल अखाड़ा के स्वामी गोकुलानंद जी,स्वामी रु द्रानंद जी ,सेवा निवृत्त अटॉर्नी जनरल गोविंद उपाध्याय विशेष रूप से शामिल थे।
उदासीन सम्प्रदाय के स्वामी गोकुलनंद जी ने बताया की इस यात्रा की काठमांडू से रवानगी नेपाल के पर्यटन मंत्री ने की थी जिसका मकसद गुरु नानक देव जी के संदेश शान्ति,परस्पर प्रेम – भाई चारा एवम् यूनिटी का प्रचार करना है। साथ ही उन्होंने बताया कि इस स्थान पर गुरु नानक देव जी अपनी पहली उदासी के समय पहुंचे थे। उनके निर्मल अखाड़े के 17 सदस्य साथ में चल रहे है।
550 साला का जिक्र करते हुए बताया कि नेपाल सरकार ने इस अवसर पर 100,1000 एवम् 2500 के सिक्के उनकी तस्वीर के साथ जारी किए है। यात्रा के प्रारंभ से ही फतेह गढ़ साहिब के राजिंदर सिंह शस्त्र धारी अपनी मोटर साइकिल से लगभग 2200 किमी के यात्रा में साथ चल रहे है। यात्रा में सेवा सोसायटी के यश दीप सिंह,गगन दीप सिंह ,अमरदीप सिंह सहित 150 से 200 श्रद्धालु 7 से 8 गाड़ियों में सवार है। रवानगी के समय संत बाबा प्रीतम सिंह, कंवल दीप सिंह,मीडिया प्रभारी मास्टर गुरनाम सिंह,समन्वयक बंटी ग्रोवर,महंत हरपाल सिंह,जत्थेदार अमर सिंह,ग्रंथी कुलविंदर सिंह,केवल सिंह,हरबंस सिंह,टीटू सिंह,सुशील सिंह, रणजीत सिंह,रानी सिंह,मनप्रीत कौर आदि की उपस्थिति उल्लेखनीय रही।