नैनीताल – 31 अक्टूबर से होगा नदियों में खनन और चुगान

0
21

रिपोर्ट-कांता पाल /नैनीताल – नैनीताल जनपद की गौला, नंधौर, दाबका व कोसी नदियों मे खनन एवं चुगान का कार्य गुरूवार 31 अक्टॅूबर से शुरू हो जायेगा। जिलाधिकारी  सविन बंसल ने बताया  है कि खनन राजस्व का एक बडा स्रोत है। उन्होने कहा कि निर्धारित कार्यक्रम के अनुसार जनपद की गौला, नंधौर व कोसी नदियों से खनिज निकासी का काम गुरूवार से प्रारम्भ हो जायेगा तथा इन नदियों के सभी गेट खनन कार्यो के लिए एक सप्ताह के भीतर खोल दिये जायेंगे।
बंसल ने क्षेत्रीय प्रबन्धक वन निगम को निर्देश दिये है कि चारों नदियों के खनन गेटों पर आवश्यक व्यवस्थायें सुनिश्चित कर ली जाए तथा आवश्यक स्टाफ की तैनाती के साथ ही सभी निकासी गेटों पर सीसीटीवी कैमरे तथा कांटों की व्यवस्था भी सुनिश्चित कर ली जाए तथा गेटों पर कम्प्यूटर तथा इंटरनैट की व्यवस्थायें भी सुनिश्चित कर ली जांए। उन्होने कहा गत खनन सत्र मे एक भी दिन खनन कार्य ना करने वाले वाहनों का रजिस्ट्रेशन रद्द कर दिया जायेगा तथा अगले खनन सत्र से 50 प्रतिशत कार्य दिवस के दौरान खनन वाहन अनिवार्य रूप से संचालित किया जायेगा, 50 प्रतिशत से कम खनन वाहन संचालन किये जाने पर वाहन का नवीनीकरण नही किया जायेगा।  बंसल ने उपजिलाधिकारी, एआरटीओ, पुलिस अधिकारी व एसडीओ की टीम गठित करते हुये निर्देश दिये है कि खनन के दौरान नियमित चैकिंग एवं वीडियोग्राफी भी की जाए। उन्होने कहा सुर्यास्त के बाद किसी भी दशा में खनन की अनुमति नही होगी। उन्होनेे सभी अधिकारियों को टीम भावन से कार्य करते हुये अवैध खनन व अवैध खनिज  भण्डारण के खिलाफ सख्ती से कार्यवाही करते हुये नियमानुसार आर्थिक दण्ड वसूल करने के साथ ही मुकदमे पंजीकृत कराने के निर्देश दिये। उन्होने कहा कि अवैध खनन करते हुये पकडे जाने पर सम्बन्धित वाहन का पंजीकरण तत्काल निरस्त किया जायेगा इसके साथ ही वाहन पर अन्य वाहन की नम्बर प्लेट लगाकर खनन कार्य करने वालो का पंजीकरण तत्काल निरस्त किया जायेगा। उन्होने बताया कि नंधौर मे 580 वाहन प्रतिगेट निर्धारित संख्या होगी। नये वाहनों का पंजीकरण लाटरी सिस्टम से किया जायेगा। नये वाहनों का पंजीकरण वाहन का फिटनैस सार्टिफिकेट, इंश्योरंैस, वाहन की आरसी तथा चालक के सत्यापन के बाद किया जाए।
गौरतलब है कि खनन समिति के निर्णय के अनुसार जनपद में 31 अक्टूबर को गौला नदी का लालकुआं गेट 01 नवम्बर को बेरीपडाव गेट खनन व चुगान कार्यो के लिए खोल दिये जायेंगे तथा नवम्बर माह के प्रथम सप्ताह के गौला नदी के सभी गेट खोल दिये जायेंगे, 04 नवम्बर को नंधौर नदी का एनएम गेट को खनन कार्य के लिए खोल दिये जायेंगे, नंधौर के सभी गेट नवम्बर माह के प्रथम सप्ताह के आगामी दिवसों मे खोल दिये जायेंगे। इसी प्रकार दाबका नदी का एक मात्र गेट छोई 31 अक्टूबर को खनन एवं चुगान कार्यो हेतु खोल दिया जायेगा। इसी प्रकार कोसी नदी का कालूसिद्व गेट 04 नवम्बर को तथा अन्य सभी गेट नवम्बर के प्रथम सप्ताह तक चुगान कार्यो के लिए खोल दिये जायेंगे। जनपद की खनन नदियों के सभी गेट नवम्बर प्रथम सप्ताह मे सक्रिय कर दिये जायेंगे।